Adverb (क्रिया विशेषण) की परिभाषा और इसके सभी प्रकार के बारे में Example सहित Adverb in Hindi के इस लेख के माध्यम से पढ़े।

Adverb (क्रिया – विशेषण) English Grammar के Part of Speech का एक भाग है। Part of Speech के कुल 08 भाग होते हैं। जिसमें से पहला भाग Noun (संज्ञा) होता है। दूसरा भाग Pronoun, तीसरा भाग Adjective (विशेषण), चौथा भाग Verb (क्रिया) होता है और पांचवा भाग Adverb (क्रिया विशेषण) है जिसके बारे आज हम विस्तार से बतायेंगे।

आज हम आपको Adverb in Hindi की इस पोस्ट में Adverb (क्रिया विशेषण) की Definition को Hindi में, Adverb (क्रिया विशेषण) के Examples को Hindi में और Types of Adverb को Hindi में बताएंगे।

इसके साथ – साथ हम आपको स्वयं को जांचने के लिए Adverb की 02 Worksheet को भी Hindi में उपलब्ध कराया हैं। जिससे आप अपने प्राप्त किए गए ज्ञान का अवलोकन कर सकते हैं।

अनुक्रम hide

Definition of Adverb in Hindi ( क्रिया विशेषण की परिभाषा हिंदी में)

Adverb (क्रिया विशेषण) वे शब्द हैं जो Noun, Pronoun और Interjection को छोड़कर बाकी सभी Parts of Speech (Adjective, Verb, Adverb, Preposition, Conjunction) की विशेषता बताते हैं।

Definition of Adverb in English( क्रिया विशेषण की परिभाषा अंग्रेजी में)

An Adverb is a word used with a Verb, an Adjective or another Adverb to add something to its meaning. In other words, An adverb is a word which modifies any part of speech except a Noun, Pronoun, Interjection.

Adverb Examples in Hindi | English

नीचे लिखे वाक्यों में मोटे अक्षरों में छपे शब्दों को ध्यान से पढ़ें :-

  • Ram always go to school.
  • She is quite well.
  • He ran very fast.

उपरोक्त वाक्य में मोटे अक्षरों में छपे हुए शब्द क्रिया, विशेषण या दूसरे क्रिया विशेषण की विशेषता बताते हैं। पहले वाक्य में always शब्द go क्रिया की विशेषता बताता है। दूसरे वाक्य में quite शब्द Adjective, well के अर्थ में विशेषता उत्पन्न करता है। तीसरे वाक्य में very शब्द Adverb, Fast की विशेषता बताता है। always, quite व very क्रिया विशेषण (Adverb) हैं। 

  1. He shouted loudly.
  2. He shouted very loudly.
  3. It was a very good book.
  4. The aeroplane flew exactly over the hill.
  5. He failed simply because he did not work.

ऊपर के वाक्यों में देखने से ज्ञात होता है कि वाक्य 01 में शब्द loudly क्रिया shouted को, वाक्य 02 में very एक दूसरे Adverb loudly को, वाक्य 03 में very एक Adjective good को, वाक्य 04 में exactly एक preposition over को तथा वाक्य 05 में simply एक Conjunction because को Modify कर रहे हैं। अतः ये सब Adverb हैं।

adverb in hindi, adverb in hindi example
Adverb jn Hindi | Types | Examples | Definition

क्रिया विशेषण के प्रकार (Types of Adverb | Kinds of Adverb)

Adverb के कुल 09 प्रकार होते हैं जो कि निम्नवत है :-

  1. Adverbs of Time (कालवाचक क्रिया – विशेषण)
  2. Adverbs of Frequency (आवृतिवाचक क्रिया – विशेषण)
  3. Adverbs of Manner (रीतिवाचक क्रिया – विशेषण)
  4. Adverbs of Place (स्थानवाचक क्रिया – विशेषण)
  5. Adverbs of Degree (परिमाणवाचक क्रिया-विशेषण)
  6. Adverbs of Reason (कारणवाचक क्रिया-विशेषण)
  7. Adverbs of Negation and Affirmation (नकारात्मक एवं स्वीकारात्मक क्रिया-विशेषण)
  8. Interrogative Adverbs (प्रश्नवाचक क्रिया-विशेषण)
  9. Relative adverbs (सम्बन्धवाचक क्रिया-विशेषण)

अब हम इनके बारे में विस्तार से पढ़ेंगे –

Adverbs of Time (कालवाचक क्रिया-विशेषण)

Adverbs of Time (कालवाचक क्रिया-विशेषण) की परिभाषा :- ऐसे Adverb जो कार्य के होने का समय बताते हैं उन्हें Adverb of Time कहते हैं। ये ‘When’ के प्रश्नों का उत्तर देते हैं। इस प्रकार के शब्द हैं – Yet, Now, Soon, Today, Tomorrow, Then, Yesterday आदि।

ये शब्द प्रायः वाक्य के अंत मे रखे जाते हैं; जैसे –

  • He is playing now.
  • He has not finished his work yet.

Adverbs of Frequency (आवृतिवाचक क्रिया-विशेषण)

Adverbs of Frequency (आवृतिवाचक क्रिया-विशेषण) की परिभाषा :- वो Adverb जो यह बताते हैं कि कोई घटना किस बहुतायत से (कितनी बार) घटित हुई हैं। उन्हें Adverb of Frequency कहते हैं।

ये शब्द हैं – Rarely, Usually, Sometimes, Often, Never, Ever, Always, Generally, Seldom, Occasionally, Frequently आदि। ये ‘How Often ?’ कितनी बार के प्रश्नों का उत्तर देते हैं।

इन्हें वाक्य में उचित स्थान पर रखने के लिए निम्न बातें ध्यान में रखना चाहिए :-

  1. ये शब्द वाक्य में सहायक क्रिया (Helping Verb) के बाद व मुख्य क्रिया (Main Verb) के पहले रखे जाते हैं; जैसे –
    • The dog always gulps his food.
    • He can never learn anything.
  2. क्रिया be (Is, Am, Are, Was, Were) के पूरी क्रिया के रूप में प्रयुक्त होने पर ये शब्द इन क्रियाओं के बाद रखे जाते हैं; जैसे –
    • His muzzle is often long and pointed.
    • You are always welcome.
  3. यदि वाक्य में सहायक क्रिया नहीं हो, केवल मुख्य क्रिया ही हो तो इस प्रकार के Adverbs मुख्य क्रिया के पहले रखे जाते हैं; जैसे –
    • His father seldom goes out.
    • The last remark never fails to amuse him.
  4. यदि वाक्य Negative हैं तो Adverb को not के बाद में रखते हैं; जैसे –
    • We can’t always see the sun in the rainy season.
    • He does not always leave his office at five.
  5. Has, Have, Had व Do, Does, Did आदि किसी वाक्य में सहायक क्रिया व किसी मे मुख्य क्रिया का काम करते हैं। जब ये सहायक क्रिया का काम करेंगे तो इनके साथ कोई Main verb होगी। ऐसी स्थिति में Adverb इनके बाद प्रयुक्त होगा। यदि ये किसी वाक्य में मुख्य क्रिया का काम करें तो Adverb इनके पहले रखा जायेगा; जैसे –
    • You have never seen a girl like her. (Have सहायक क्रिया के रूप में प्रयुक्त हुआ है।)
    • I never have money in the morning (Have मुख्य क्रिया के रूप में प्रयुक्त हुआ है।)
    • He does not always go to school. (Does सहायक क्रिया है।)
    • Our pet always does this. (Does मुख्य क्रिया है।)

कुछ अन्य Adverb का प्रयोग भी Adverbs of Frequency के समान ही होता है। ये Adverbs हैं – Just, Already, Still आदि; जैसे –

  • He has quickly.
  • He is still sleeping.

Adverbs of Manner (रीतिवाचक क्रिया-विशेषण)

Adverbs of Manner (रीतिवाचक क्रिया-विशेषण) की परिभाषा :- वो शब्द जो किसी घटना के बारे में यह बताते हैं कि घटना किस ढंग से घटित हुई हैं या होती हैं। ऐसे शब्द Adverb of Manner कहलाते हैं। ये ‘How ?’ के प्रश्नों का उत्तर देते हैं।

ये शब्द हैं – Quickly, Bravely, Happily, Fast, Slow, Well आदि। ये शब्द वाक्य में Direct Object नहीं है तो क्रिया के बाद में आते है; जैसे –

  • He walks quickly.
  • He speaks Hindi well.

Adverbs of Place (स्थानवाचक क्रिया – विशेषण)

Adverbs of Place (स्थानवाचक क्रिया – विशेषण) की परिभाषा :- वे शब्द जो कार्य के होने का स्थान बताते हैं उन्हें Adverb of Place कहते हैं। ये ‘Where’ के प्रश्नों का उत्तर देते हैं।

इस प्रकार के शब्द हैं – Here, There, Up, Down, Near, By, Every-where आदि। Adverb of Place को भी Direct object के बाद में रखा जाता है। Direct object नहीं होने पर क्रिया के बाद रखा जाता है; जैसे –

  • He put a table there.
  • He played well here.

Adverbs of Degree (परिमाणवाचक क्रिया-विशेषण)

Adverbs of Degree (परिमाणवाचक क्रिया-विशेषण) की परिभाषा :- Adverbs of degree किसी (Adjective) विशेषण या अन्य Adverb को Modify करता है। अतः इनको उस Adjective या Adverb के पहले रखते हैं जिसे ये Modify करते हैं।

ये ‘How much ?’ ‘To what extent?’ या ‘In what degree?’ के प्रश्नों का उत्तर देते हैं। ये शब्द हैं – Almost, Quite, Too, Very, So, Rather, Pretty, As आदि; जैसे –

  • Ram was quite well.
  • He works very carefully.

Adverb, enough का प्रयोग Adjective या दूसरे Adverb के बाद में ही होता हैं; जैसे – He is rich enough to buy a car. Adverb ‘only’ का प्रयोग इस शब्द से पहले होता हैं जिसे वह Modify करता है। यदि क्रिया पर Stress देना हो तो इसे क्रिया के पहले रखते हैं।

Adverbs of Reason (कारणवाचक क्रिया-विशेषण)

Adverbs of Reason (कारणवाचक क्रिया-विशेषण) की परिभाषा :- यह Verb (क्रिया) के कारण को बताने में जोर देता हैं। ये शब्द ऐसे हैं – So, Thus, Therefore, Hence, Because आदि। इनका उपयोग इस प्रकार हैं –

  • The new trains have more powerful engines and are therefore faster.
  • Thus, She was late.
  • I was late so I caught the bus.

Adverbs of Negation and Affirmation (नकारात्मक एवं स्वीकारात्मक क्रिया-विशेषण)

  • He will surely come today.
  • I am really happy today.
  • They will not help you.
  • He is not my friend.

Surely, Really शब्द स्वीकारात्मक भाव प्रकट करते हैं। अतः ये Simple Adverb Showing Affirmation कहलाते हैं। ‘Not’ शब्द ‘Adverb Showing Negation’ कहलाते हैं।

Interrogative Adverb in Hindi (प्रश्नवाचक क्रिया-विशेषण)

  • When did you see the Taj ?
  • Where do you want yo go ?
  • Why has the boy not come ?
  • How will you solve this problem ?

When, Where, Why, How प्रश्नवाचक वाक्यों की रचना करते हैं। अतः ये Interrogative Adverb (प्रश्नवाचक क्रिया-विशेषण) कहलाते हैं।

Relative adverbs (सम्बन्धवाचक क्रिया-विशेषण)

  • Do you know the reason why he was angry ?
  • I know the place where he lived.
  • The day, when Gandhiji was born, is konw as Gandhiji Jayanti.

Why, Where, When दो Clause जोड़ने के लिए प्रयुक्त किये गये हैं अतः ये Relative Adverbs हैं। इनका अर्थ ‘जकार वाचक’ होता है। When = जब, Where = जहाँ, Why = जिस कारण से।

FAQ Related to Adverb

Adverb को हिंदी में क्या कहते हैं ?

Adverb को हिंदी में क्रिया – विशेषण कहते हैं।

Adverb किसे कहते हैं ?

संज्ञा और सर्वनाम को छोड़कर जो बाकी सभी पार्ट्स ऑफ स्पीच की विशेषता बताएं उसे Adverb कहते हैं।

Adverb कितने प्रकार के होते हैं ?

Adverb कुल 09 प्रकार के होते हैं।

Adverb Exercise in Hindi

नीचे हमने आपके लिए Adverb की 02 Worksheet, Hindi में उपलब्ध कराई है। जिसे हल करके आप अपने ग्रहण किए हुए ज्ञान का आकलन कर सकते हैं।

Adverb in Hindi Worksheet – 01

नीचे लिखे वाक्यों में Adverb को छाँटिए –

  1. He lives here.
  2. Ram has come now.
  3. I shall go there tomorrow.
  4. She went there yesterday.
  5. Never tell a lie.
  6. Always speak the truth.
  7. He seldom comes here.
  8. Walk slowly.
  9. Do not run so fast.
  10. It is very hot.

Adverb Worksheet – 02

नीचे लिखे वाक्यों में Adverb को भरिये –

  1. ……. do you go to school ?
  2. ……. do you live ?
  3. ……. did you solve this question.
  4. ……. are you standing at the door ?
  5. How many boys are …….. in your class ?
  6. I have come just ………..
  7. The horse runs ……..
  8. Go ……. at once.
  9. I …….. speak the truth.
  10. I went there ……..

दोस्तों यदि आप Social Media जैसे Facebook, Twitter, Instagram पर हमारे Latest Post के Notification पाना चाहते हैं तो आप हमारे Facebook Page, Twitter Page, Instagram Page को जरूर Like करें।

अगर आप Facebook, Twitter, Instagram पर हमारे साथ जुड़कर अपनी Knowledge और  Information को Share करना चाहते हैं तो हमारे Facebook Group Indis हिंदी, Instagram Page Indis हिंदी, Twitter Page Indis हिंदी को जरूर Join करें ।

यही उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया यह पोस्ट Adverb in Hindi आपको Part of Speech के Adverb  को समझने में मददगार साबित होगा। यदि आप Adverb in Hindi की इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक पढ़ते हैं तो आपको इसके बारे में समस्त जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

इस पोस्ट में Adverb in Hindi – क्रिया विशेषण किसे कहते है एवं इसके प्रकार के बारे में विस्तार से बताया गया है। जिससे आपको एडवर्ब समझने में कोई परेशानी ना आए।

Adverb (क्रिया विशेषण) – सम्पूर्ण जानकारी एवं उदाहरण | Adverb in Hindi को इस लेख में  दिया गया है जिससे आप Definition, Types, Examples, Meaning in Hindi में समझ सकते हैं।

Leave a Comment